मौत के बाद पता चला कंडोम नहीं था तो केमिकल से बंद कर लिया लिंग

गुजरात के पटेल वाडी में एक 25 साल के युवक की मौत चर्चा में है। मृतक का नाम सलमान मिर्ज़ा है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने पुलिस के हवाले से बताया है कि सलमान मिर्जा के प्राइवेट पार्ट पर एक चिपचिपा पदार्थ लगाया गया था जो उसकी मौत का कारण हो सकता है। अखबार के मुताबिक मामले की जांच कर रहे वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया है कि सलमान मिर्जा ने सेक्स के दौरान इंटरकोर्स के लिए अपने प्राइवेट पार्ट पर केमिकल लगाया था ताकि वो सीज हो जाए और अनचाही प्रेग्नेंसी से बचा जा सके। अब आशंका जताई गई है कि केमिकल लगाने की वजह से उसकी हालत बिगड़ी और बाद में मौत हो गई।

रिपोर्ट में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा है सलमान मिर्जा और उसकी पूर्व मंगेतर ड्रग लेने के आदी थे। कई प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है कि 22 जून को दोनों जुहापुरा के एक होटेल में गए थे। उनके पास प्रोटेक्शन के लिए कॉन्डम नहीं था इसलिए उसने प्राइवेट पार्ट पर चिपकने वाले केमिकल का इस्तेमाल किया। अधिकारी के मुताबिक सलमान मिर्जा और उसके पूर्व मंगेतर के अलावा एक अन्य महिला भी उनके साथ थी। जांच के दौरान जब पुलिस ने होटल के सीसीटीवी फुटेज देखे तो साफ हो गया कि मिर्जा और उसकी गर्लफ्रेंड होटेल में घुसे थे। अगले दिन वह बेहोशी की हालत में मिला था। पुलिस अधिकारियों ने अखबार को बताया है कि होटेल में मिर्जा और उसके पूर्व मंगेतर ने कुछ ड्रग लिए थे। उसके बाद उन्होंने सेक्स करने का फैसला किया।

एक अधिकारी ने बताया कि अभी किसी के भी पास प्रोटेक्शन नहीं था इसलिए प्रेग्नेंसी से बचने के लिए दोनों ने मिर्जा के प्राइवेट पार्ट में चिपचिपा पदार्थ लगाने का तय किया। विवाहिता के साथ मिक्स करने के लिए ही केमिकल रखते थे। इससे महिला की हालत बिगड़ने लगी और कई कॉम्बिनेशन के चलते उसकी मौत हो गई। इसमें मल्टिपल ऑर्गन फेल्योर भी शामिल था। डीसीपी प्रेमसुख बैलून के मुताबिक सलमान मिर्जा के परिवार का आरोप है कि उसके साथ चल रही महिला ने उसके प्राइवेट पार्ट में केमिकल लगाया था। अधिकारी का कहना है कि मृतक की आंतों के सैंपल फॉरेंसिक जांच के लिए भेजे गए हैं।

फिलहाल रिपोर्ट आने का इंतजार है। (Times of India) ने बताया कि सलमान मिर्जा अपने परिवार का इकलौता कमाने वाला सदस्य था। मौत के बाद उसकी बहन ने 25 जून को विजयपुर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने ऐक्सिडेंटल डेथ की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की इस दौरान पता चला कि मिर्जा 23 जून को होटेल अंबर टावर के पास बेहोश हो गया था। वहां से उसका एक परिचित उसे घर लेकर आया। बाद में मिर्जा की तबियत गंभीर हो तो उसे सोला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। उसके परिवार के कुछ लोगों और दोस्तों का कहना है कि ड्रग लेने के बाद मिर्जा की है खराब हुई थी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *